CPU तथा GPU क्या हैं? इनके क्या कार्य हैं तथा ये एक दूसरे से कैसे अलग हैं?

नमस्कार दोस्तो स्वागत है आपका जानकारी ज़ोन में जहाँ हम विज्ञान, प्रौद्योगिकी, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय राजनीति, अर्थव्यवस्था, ऑनलाइन कमाई तथा यात्रा एवं पर्यटन जैसे अनेक क्षेत्रों से महत्वपूर्ण तथा रोचक जानकारी आप तक लेकर आते हैं। आज हम इस लेख के माध्यम से बात करेंगे CPU एवं GPU की जानेंगे ये क्या हैं तथा देखेंगे इन दोनों में क्या अंतर हैं?

क्या है CPU?

CPU या Central Processing Unit किसी कंप्यूटर में लगा वह भाग होता है, जो उस कम्प्यूटर को दिए जाने वाले निर्देशों को प्रोसेस करता है तथा उपयोगकर्ता के सामने परिणामों को लेकर आता है, जिसे कंप्यूटर की स्क्रीन द्वारा प्रदर्शित किया जाता है अतः CPU को कम्प्यूटर का दिमाग कहा जा सकता है। कम्प्यूटर में होने वाली कोई भी गणना CPU द्वारा ही कि जाती है।

रचना एवं कार्यप्रणाली

किसी CPU का मुख्य भाग इसमें लगा प्रोसेसर होता है यह प्रोसेसर करोड़ों छोटे-छोटे ट्रांजिस्टर से मिलकर बना होता है, जो कम्प्यूटर में किसी भी निर्देश को प्रोसेस कर पूरा करते है। आपने कोई भी स्मार्टफोन या कंप्यूटर खरीदने में CPU के प्रकारों में Dual CORE, Quad CORE, Octa CORE का नाम अवश्य सुना होगा आइये इन्हें समझते हैं।

जैसा कि, हमने जाना किसी भी CPU में एक प्रोसेसर लगा होता है, जो कम्प्यूटर के सभी कार्यों को प्रोसेस करने के कार्य करता है, इसे ही प्रोसेसर कोर या केवल कोर कहा जाता है। अतः जैसा नाम से स्पष्ट है ड्यूल कोर का मतलब ऐसे CPU से है, जिसमे 2 प्रोसेसर लगें हो तथा क्वैड कोर का मतलब 4 प्रोसेसर से है।

यह भी पढ़ें : इंटरनेट प्रोटोकॉल पता (Internet Protocol Address) या IP एड्रेस क्या है तथा कैसे कार्य करता है?

वर्तमान दौर में हम अपने अधिकतर कार्यों के लिए कम्प्यूटर, स्मार्टफोन आदि पर ही निर्भर रहते हैं अतः इनका उच्च गुणवत्ता के साथ कार्य करना बेहद आवश्यक हो जाता है। इसी को ध्यान में रखते हुए CPU की प्रौद्योगिकी में समय-समय पर बदलाव होते रहते हैं।

चूँकि किसी CPU के प्रोसेसर में जितने अधिक ट्रांजिस्टर लगे होंगे CPU उतनी ही अधिक दक्षता के साथ कार्य कर सकेगा, लिहाज़ा हमें बहुत कम समय में किसी कार्य का परिणाम मिल सकेगा। किन्तु किसी उपकरण को छोटा बनाना भी वर्तमान में मुख्य चुनौती है ताकि उसे आसानी से कहीं भी ले जाए जा सके।

यह भी पढ़ें : जानें क्या है भारत की स्वदेशी नौवहन प्रणाली नाविक तथा GPS से किस प्रकार अलग है?

अतः प्रोसेसर में अधिक ट्रांज़िस्टर लगाने के बजाए प्रोसेसर बनाने वाली कम्पनियाँ ट्रांज़िस्टर के आकार को छोटा करने की तरफ ध्यान देती हैं, जिससे पहले की तुलना में किसी प्रोसेसर में अधिक ट्रांजिस्टर लगाए जा सकें और प्रोसेसर को पहले की तुलना में अधिक कार्यकुशल बनाया जा सके।

क्या है GPU?

आइये अब समझते हैं GPU या ग्राफिक्स प्रोसेसिंग यूनिट के बारे में। यह भी एक प्रकार का प्रोसेसर ही है। जहाँ CPU कम्प्यूटर के सभी कार्यों को संचालित करता है वहीं GPU केवल ग्राफिक्स को संचालित करता है। ग्राफिक्स किसी सूचना के फोटो या वीडियो रूप में होने को कहा जाता है। ग्राफिक्स द्विविमीय (2D) अथवा त्रिविमीय (3D) हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें : कंप्यूटर में कैश मेमोरी (Cache Memory) क्या है तथा किस काम आती है?

हाँलाकि कम्प्यूटर में लगा CPU भी इस कार्य को करने में सक्षम होता है, किंतु ग्राफिक्स के क्षेत्र में बढ़ते विकास के चलते फिर चाहे वह 3D गेम हों या 4K, 8K जैसी वीडियो संपादित (edit) करना, ऐसे में CPU के लिए कंप्यूटर के अन्य कार्य तथा ऐसे उच्च ग्राफिक्स को प्रोसेस कर पाना थोड़ा मुश्किल होता है।

इसी लिए कंप्यूटर को आवश्यकता होती है एक ऐसे प्रोसेसर की जो केवल ग्राफिक्स को प्रोसेस करने के लिए उपयोग में लिया जा सके और ये संभव हो पाया GPU के कारण। सबसे पहला GPU NVIDIA नामक कंपनी ने बनाया जो वर्तमान में भी दिग्गज GPU निर्माता कंपनी है।

Integrated vs Dedicated GPUs

आपने अक्सर कोई लैपटॉप खरीदते समय प्रोसेसर में Integrated GPU या Dedicated GPU के विकल्प अवश्य देखे होंगे। जैसा कि इनके नामों से स्पष्ट है Integrated GPU में CPU द्वारा ही ग्राफिक्स प्रोसेस करने का काम किया जाता है जबकि Dedicated GPU में आपको अलग से एक प्रोसेसर दिया जाता है जो केवल ग्राफिक्स प्रोसेस करने का कार्य करता है। यही कारण है कि Dedicated GPU वाले कंप्यूटर Integrated GPU की तुलना में अधिक कार्यकुशल एवं महँगे होते हैं।

यह भी पढ़ें : क्या है ऑप्टिकल फाइबर केबल तथा किस सिद्धांत पर कार्य करती है?

उम्मीद है दोस्तो आपको ये लेख (CPU and GPU in Hindi) पसंद आया होगा टिप्पणी कर अपने सुझाव अवश्य दें। अगर आप भविष्य में ऐसे ही रोचक तथ्यों के बारे में पढ़ते रहना चाहते हैं तो हमें सोशियल मीडिया में फॉलो करें तथा हमारा न्यूज़लैटर सब्सक्राइब करें। तथा इस लेख को सोशियल मीडिया मंचों पर अपने मित्रों, सम्बन्धियों के साथ साझा करना न भूलें।

Recent Articles

ADVERTISEMENT

Also Read This

error: Content is protected !!