तत्व, यौगिक एवं मिश्रण क्या होते हैं (Elements, Compounds & Mixtures) तथा इनमें क्या अंतर हैं?

नमस्कार दोस्तो स्वागत है आपका जानकारी ज़ोन में जहाँ हम विज्ञान, प्रौद्योगिकी, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय राजनीति, अर्थव्यवस्था, ऑनलाइन कमाई तथा यात्रा एवं पर्यटन जैसे क्षेत्रों से महत्वपूर्ण तथा रोचक जानकारी आप तक लेकर आते हैं। आज इस लेख में हम जानेंगे तत्वों, यौगिकों (Elements and Compounds in Hindi) एवं मिश्रण (Mixtures) के बारे में तथा देखेंगे ये किस प्रकार एक दूसरे से भिन्न हैं।

तत्व (Elements)

तत्व किसी भी पदार्थ की मूल इकाई है। ये एक समान परमाणुओं से मिलकर बने होते हैं। किसी तत्व को भौतिक या रासायनिक अभिक्रिया द्वारा और विभाजित नहीं किया जा सकता। तत्व परमाणु या अणु रूप में मौजूद रहते हैं। बता दें कि दो या दो से अधिक परमाणु मिलकर अणु बनाते हैं। उदाहरण के तौर पर ऑक्सीजन के दो परमाणु मिलकर ऑक्सीजन गैस का एक अणु (o2) बनाते हैं।

अब तक प्रकृति में कुल 118 विभिन्न तत्वों की खोज की जा चुकी है, जिनमें 94 तत्व प्राकृतिक हैं। इन सभी तत्वों को आवर्त सारणी में देखा जा सकता है। आवर्त सारणी प्रकृति में खोजे गए सभी तत्वों को दर्शाने की एक व्यवस्था है। इस सारणी का प्रारम्भिक प्रारूप 1869 में रूसी रसायनशास्त्री मेंडलीव द्वारा बनाया गया। सारणी में तत्वों को उनके बढ़ते परमाणु द्रव्यमान के अनुसार रखा गया है।

periodic-table
आधुनिक आवर्त सारणी

यौगिक (Compound)

हमारे द्वारा दैनिक जीवन में देखे या उपयोग किये जाने वाले अधिकांश पदार्थ तत्व रूप में नहीं होते। वह तत्वों के यौगिग होते हैं। आइये समझते हैं यौगिकों को, यौगिक दो या दो से अधिक तत्वों का एक निश्चित अनुपात में मिश्रण होता है। किसी यौगिक से भौतिक अभिक्रिया द्वारा उसके तत्वों को अलग नहीं किया जा सकता किन्तु रासायनिक अभिक्रिया द्वारा किसी यौगिक के मूल तत्वों को अलग किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : जानें जैव ईंधन क्या होते हैं तथा इनका निर्माण किस प्रकार होता है?

उदाहरण के तौर पर हाइड्रोजन तथा ऑक्सीजन दो विभिन्न तत्व हैं, जो आवर्त सारणी में क्रमशः पहले तथा आठवें स्थान पर स्थित हैं। किंतु यदि हाइड्रोजन के दो अणु तथा ऑक्सीजन का एक अणु मिल जाएं तो H2O अर्थात पानी का निर्माण करते हैं, जो हमारे जीवन का एक अभिन्न अंग है।

यौगिक

मिश्रण (Mixture)

दो या दो से अधिक तत्वों अथवा यौगिक से मिलकर बने पदार्थ मिश्रण कहलाते है। मिश्रण में इसके घटकों के मध्य कोई रासायनिक अभिक्रिया सम्पन्न नहीं होती अतः किसी मिश्रण में उसके प्रत्येक घटक के गुण विद्यमान रहते हैं। किसी यौगिक के विपरीत मिश्रण में मिलाए गए तत्वों का अनुपात सदैव एक समान नहीं रहता। मिश्रण के घटकों को भौतिक अभिक्रिया द्वारा अलग किया जा सकता है, उदाहरण के तौर पर नमक तथा पानी का घोल।

यह भी पढ़ें : जानें कौन सी हैं पदार्थ की पाँच अवस्थाएं तथा कहाँ पाई जाती हैं?

उम्मीद है दोस्तो आपको ये लेख (Elements and Compounds explained in Hindi) पसंद आया होगा टिप्पणी कर अपने सुझाव अवश्य दें। अगर आप भविष्य में ऐसे ही रोचक तथ्यों के बारे में पढ़ते रहना चाहते हैं तो हमें सोशियल मीडिया में फॉलो करें तथा हमारा न्यूज़लैटर सब्सक्राइब करें एवं इस लेख को सोशियल मीडिया मंचों पर अपने मित्रों, सम्बन्धियों के साथ साझा करना न भूलें।

Recent Articles

ADVERTISEMENT

Also Read This

error: Content is protected !!