क्या है वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क? (What is VPN in Hindi)

नमस्कार दोस्तो स्वागत है आपका जानकारी ज़ोन में जहाँ हम विज्ञान, प्रौद्योगिकी, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय राजनीति, अर्थव्यवस्था, ऑनलाइन कमाई तथा यात्रा एवं पर्यटन जैसे अनेक क्षेत्रों से महत्वपूर्ण तथा रोचक जानकारी आप तक लेकर आते हैं। आज हम बात करेंगे VPN या वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क की और जानेंगे यह कैसे काम करता है एवं इसके क्या फायदे हैं। (What is VPN in Hindi)

क्या है वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क? (What is VPN in Hindi)

VPN या वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क क्या है? यह जानने से पहले समझते हैं IP एड्रेस के बारे में, हमने अपने एक अन्य लेख में इसे विस्तार से समझाया है जिसे आप यहाँ क्लिक करके पढ़ सकते हैं। यहाँ हम संक्षेप में समझते हैं IP एड्रेस क्या है? जैसा कि नाम से स्पष्ट है यह एक एड्रेस है।

जिस प्रकार इस दुनियाँ में आपका एक पता है जिसकी मदद से कोई भी व्यक्ति आप तक पहुँच सकता है, उसी प्रकार इंटरनेट की दुनियाँ में भी प्रत्येक उपकरण जिसके द्वारा इंटरनेट का इस्तेमाल किया जा सकता है उसका एक नियत पता होता है जिसे हम IP एड्रेस कहते हैं। इसी एड्रेस की मदद से आप तक आपके द्वारा इंटरनेट पर खोजी गयी सारी जनकारी पहुँचायी जाती है।

vpn
VPN in Hindi

जब आप इंटरनेट पर किसी भी विषय के बारे में खोजते हैं या किसी भी वेबसाइट को खोलते हैं तो उस कार्य को करने का निवेदन सबसे पहले आपके इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर या ISP तक पहुँचता है, जिसके बाद आपका ISP उस निवेदन को जहाँ वह डेटा स्टोर है उस सर्वर तक भेजता है। तत्पश्चात आपको वह जानकारी आपके मोबाइल या कंप्यूटर स्क्रीन पर दिखाई देती है।

कैसे करता है VPN काम?

आप जो कुछ भी कार्य इंटरनेट पर करते हैं आपके ISP को उसकी जानकारी रहती है ऐसे में आपका ISP इंटरनेट पर आपके द्वारा की जाने वाली प्रत्येक गतिविधियों पर नज़र रख सकता है। तो क्या यह संभव है कि आप अपनी निजता की सुरक्षा कर सकें? जी हाँ और यह मुमकिन हो पाता है VPN या वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क की मदद से आइये देखते हैं कैसे?

VPN से जुड़ जाने के बाद आपके और उस VPN सर्वर के मध्य एक सुरक्षित नेटवर्क बन जाता है। तथा आपके द्वारा इंटरनेट पर खोजी गयी कोई भी जानकारी उस VPN सर्वर द्वारा आप तक पहुँचाई जाती है। इसे एक उदाहरण की सहायता से समझते हैं मान लें आप google.com खोलना चाहते हैं, सामान्य स्थिति में आपका ISP आपको google.com तक पहुँचाता है ऐसे में उसे जानकारी रहती है आप किस वेबसाइट को देख रहे हैं।

वहीं VPN सर्वर से जुड़ जाने के बाद आपका ISP आपको VPN सर्वर तक लेकर जाता है तथा वह VPN सर्वर आपको google.com तक पहुँचा देता है। परिणामस्वरूप आपका ISP नहीं जान पाता कि आप अन्ततः किस वेबसाइट तक पहुँचे।

क्यों है VPN आवश्यक?

VPN उपयोग करने के मुख्यतः तीन फायदे हैं।

  • निजता की सुरक्षा
  • डेटा की सुरक्षा
  • प्रतिबंधित सामग्री का इस्तेमाल
Profit of VPN
Application of VPN

निजता की सुरक्षा

जैसा कि हमनें ऊपर बताया VPN इस्तेमाल करने के बाद आपके ISP को यह जानकारी नहीं होती कि आप इंटरनेट पर क्या कार्य कर रहे हैं? अतः आपका ISP, सरकारें आदि आपकी गतिविधियों पर नज़र नहीं रख सकती जिससे आपकी निजता सुरक्षित रहती है।

डेटा की सुरक्षा

दूसरा फायदा आपके डेटा की सुरक्षा है। जब आप सार्वजनिक स्थानों जैसे बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन किसी होटल आदि जगहों पर उपलब्ध फ्री वाई फाई से जुड़कर इंटरनेट का उपयोग करते हैं तो इसकी अधिक संभावना होती है कि आपका निजी डेटा किसी हैकर द्वारा जो उसी नेटवर्क से जुड़ा है चुरा लिया जाए। इससे बचने के लिए आप VPN का इस्तेमाल कर सकते हैं, जिसके परिणामस्वरूप आपके डिवाइस तथा VPN सर्वर के मध्य होने वाले डेटा का आदान प्रदान पूर्णतः इनक्रिप्टेड हो जाता है, जिसे पढ़ पाना किसी हैकर के लिए बेहद मुश्किल होता है।

प्रतिबंधित सामग्री का इस्तेमाल

इसका अन्य सबसे महत्वपूर्ण उपयोग है इंटरनेट पर ऐसी सामग्री को एक्सेस करना जो किसी खास भू-भाग के लिए प्रतिबंधित हैं। मान लीजिए आप कोई वेबसाइट खोलना चाहते हैं जो भारत में प्रतिबंधित है अतः जब सामान्य स्थिति में आप उस वेबसाइट को खोलने का निवेदन करते हैं तो आपका ISP उस निवेदन को ब्लॉक कर देता है।

किन्तु जब आप किसी VPN सर्वर से जुड़ जाते हैं जो भारत के बाहर किसी अन्य देश में स्थित है तथा जहाँ वह वेबसाइट प्रतिबंधित नहीं है तो आप उस वेबसाइट को आसानी से खोल पाएँगे। इसका प्रयोग प्रतिबंधित वेबसाइट को खोलने के अलावा किसी देश विशेष के टेलीविजन प्रोग्राम, सिनेमा आदि को देखने में भी किया जा सकता है।

कैसे करें VPN का इस्तेमाल?

गूगल प्लेस्टोर में अनेक ऍप्लिकेशन उपलब्ध हैं जिन्हें डाउनलोड करके आप VPN का इस्तेमाल कर सकते हैं। यहाँ आपके पास फ्री तथा पेड दोनों विकल्प उपलब्ध हैं जिनका आप आवश्यकता अनुसार उपयोग कर सकते हैं।

उम्मीद है दोस्तो आपको ये लेख (What is VPN in Hindi) पसंद आया होगा टिप्पणी कर अपने सुझाव अवश्य दें। अगर आप भविष्य में ऐसे ही रोचक तथ्यों के बारे में पढ़ते रहना चाहते हैं तो हमें सोशियल मीडिया में फॉलो करें तथा हमारा न्यूज़लैटर सब्सक्राइब करें। तथा इस लेख को सोशियल मीडिया मंचों पर अपने मित्रों, सम्बन्धियों के साथ साझा करना न भूलें।

Recent Articles

ADVERTISEMENT

Also Read This

error: Content is protected !!