क्या है क्रय शक्ति समता? | Purchasing Power Parity in Hindi

नमस्कार दोस्तो! स्वागत है आपका जानकारी ज़ोन में जहाँ हम विज्ञान, प्रौद्योगिकी, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय राजनीति, अर्थव्यवस्था, ऑनलाइन कमाई तथा यात्रा एवं पर्यटन जैसे क्षेत्रों से महत्वपूर्ण एवं रोचक जानकारी आप तक लेकर आते हैं। आज हम बात करेंगें क्रय शक्ति समता या Purchasing Power Parity (PPP) की और जानेंगे किन्हीं दो देशों के मध्य रहन-सहन के खर्च की तुलना किस प्रकार की जाती है? (What is Purchasing Power Parity in Hindi)

क्रय शक्ति समता (Purchasing Power Parity in Hindi)

यदि भारतीय रुपये की विदेशी मुद्रा उदाहरण के तौर पर अमेरिकी डॉलर के साथ तुलना करी जाए तो एक डॉलर की कीमत वर्तमान में 74 भारतीय रुपये के करीब है। तब क्या यह समझ लिया जाए कि अमेरिका में यदि कोई वस्तु 1 डॉलर में मिलती है तो भारत में उसकी कीमत 74 रुपये होगी? अगर आपका जवाब हाँ है तो आप गलत हैं। विदेशी मुद्रा विनिमय दर बाज़ार के बहुत से कारकों पर निर्भर करती है। किन्तु यदि किन्हीं दो देशों के मध्य रहने का खर्च अर्थात उत्पादों या सेवाओं की कीमतों की गणना करनी हो तब एसी स्थिति में क्रय शक्ति का इस्तेमाल किया जाता है। आइए पहले समझते हैं क्रय शक्ति को। क्रय शक्ति का अर्थ है कि किसी मुद्रा की एक निश्चित राशि (जैसे 100 भारतीय रुपये) से कितनी मात्रा में सेवाएं या वस्तुएं खरीदी जा सकती हैं। इसे एक उदाहरण की सहायता से आसानी से समझा जा सकता है। मान लीजिए अमेरिका में एक पानी की बोतल के लिए 1$ का भुगतान करना पड़ता है।

यदि सामान्य स्थिति में सोचें तो भारत में इसकी कीमत 74 रुपये होनी चाहिए किन्तु भारत में वही पानी की बोतल 20 रुपये में मिल जाती है। इस प्रकार 1 डॉलर की क्रय शक्ति 20 रुपये के बराबर हुई अर्थात 1 डॉलर तथा 20 रुपये से समान वस्तुएं अथवा सेवाएं खरीदी जा सकती हैं। इस तरीके से दो देशों की मुद्राओं की क्रय शक्ति की तुलना कर उनके मध्य रहने के खर्च या Living Cost की गणना करी जाती है। इसके अतिरिक्त क्रय शक्ति के आधार पर आप दो भिन्न देशों में किसी कार्य को करने पर मिलने वाले मानदेय या सैलरी की तुलना भी कर सकते हैं। उदाहरण की बात करें तो अमेरिका में एक लाख डॉलर सालाना कमाने वाले व्यक्ति का रहन-सहन भारत में 30 लाख रुपये सालाना कमाने वाले व्यक्ति की तुलना में निम्न स्तर का होगा। 

क्रय शक्ति सूचकांक

Purchasing Power Parity (PPP) सूचकांक को विश्व बैंक द्वारा जारी किया जाता है। इसमें दैनिक जीवन में इस्तेमाल किये जाने वाले प्रमुख उत्पादों तथा सेवाओं की एक बास्केट बनाई जाती है। विभिन्न देशों में उस बास्केट की कीमत ज्ञात कर प्रत्येक देश की मुद्रा की क्रय शक्ति डॉलर की तुलना में प्रदर्शित की जाती है। विश्व बैंक द्वारा जारी वर्ष 2019 की रिपोर्ट के अनुसार 1 अमेरिकी डॉलर की क्रय शक्ति 21.21 रुपये के बराबर है।

Purchasing Power Parity in Hindi
Purchasing Power Parity in Hindi

क्रय शक्ति के आधार पर GDP की गणना

विभिन्न देशों की GDP की गणना सर्वप्रथम उनकी घरेलू मुद्रा में की जाती हैं तत्पश्चात उसे डॉलर में  (बाज़ार विनिमय दर के अनुसार) परिवर्तित कर प्रदर्शित किया जाता है। इसे नॉमिनल जीडीपी कहा जाता है। किन्तु यदि क्रय शक्ति के अनुसार देखें तो 1 डॉलर 21 रुपयों के बराबर है। अतः भारत की जीडीपी को डॉलर में प्रदर्शित करनें के लिए यदि क्रय शक्ति की विनिमय दर को ध्यान में रखा जाए तो भारत की जीडीपी पूर्व की तुलना में तीन गुने से भी अधिक होगी। यही कारण है की भारत की नॉमिनल जीडीपी 2.94 ट्रिलियन है जबकि क्रय शक्ति समता के अनुसार जीडीपी 10.5 ट्रिलियन है।

क्रय शक्ति एवं बाज़ार विनिमय दर में तुलना

नीचे कुछ देशों के मुद्राओं की क्रय शक्ति एवं बाज़ार विनिमय दर की तुलना एक अमेरिकी डॉलर से की गयी है। 

देश  क्रय शक्ति  बाज़ार विनिमय मूल्य 
भारत 21.21 INR 74.4 INR
चीन 4.22 CNY 6.68 CNY
नेपाल 33.98 NPR 119.12 NPR
UAE 2.26 AED 3.67 AED
रूस 25.70 RUB 79.79 RUB
जापान 101.47 JPY 104.71 JPY

 

उम्मीद है दोस्तो आपको ये लेख (What is Purchasing Power Parity in Hindi) पसंद आया होगा टिप्पणी कर अपने सुझाव अवश्य दें। अगर आप भविष्य में ऐसे ही रोचक तथ्यों के बारे में पढ़ते रहना चाहते हैं तो हमें सोशियल मीडिया में फॉलो करें तथा हमारा न्यूज़लैटर सब्सक्राइब करें एवं इस लेख को सोशियल मीडिया मंचों पर अपने मित्रों, सम्बन्धियों के साथ साझा करना न भूलें।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

हमें फॉलो करें

728FansLike
39FollowersFollow
3FollowersFollow
23FollowersFollow
- Advertisement -
error: Content is protected !!