Harsha Engineers IPO Allotment: ऐसे चैक करें हर्षा इंजीनियर्स के शेयरों का अलॉटमेंट

प्रेसिशन बेयरिंग्स गेज बनाने वाली देश की सबसे बड़ी कंपनी Harsha Engineers International Ltd. की Initial Public Offering (IPO) का सब्स्क्रिप्शन पीरियड (14 सितंबर से 16 सितंबर) समाप्त हो चुका है और कंपनी द्वारा बताए गए शेड्यूल के मुताबिक 21 सितंबर बुधवार को कंपनी शेयरों का अलॉटमेंट कर सकती है।

बता दें, कि आईपीओ के सब्स्क्रिप्शन के लिए खुलने से पहले ही ग्रे मार्केट में इसे बेहद सकारात्मक प्रतिक्रिया मिलनी शुरू हो गई थी, वहीं इसके बाद शेयरों का सब्स्क्रिप्शन भी प्रत्येक श्रेणी में जबरजस्त रहा है। कुल मिलाकर आईपीओ 75 गुना सब्सक्राइब किया गया है, जिनमें सबसे अधिक Qualified Institutional Buyer (QIB) 178.26 गुना, Non-institutional bidders (NII) 71.32 गुना तथा रिटेल इन्वेस्टर्स द्वारा 17.63 गुना सब्सक्राइब किया गया।

स्टॉक एक्सचेंज NSE के मुताबिक हर्षा इंजीनियर्स इंटरनेशनल (HEIL) 75 गुना सब्स्क्रिप्शन के साथ इस साल का अभी तक सबसे अधिक सब्सक्राइब किया जाने वाला आईपीओ बन चुका है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक, आइपीओ के तहत कुल 1.68 करोड़ शेयरों को बिक्री के लिए रखा गया है, जिसके बदले में कुल 125.96 करोड़ शेयरों के लिए बोलियां प्राप्त हुई।

आईपीओ से 755 करोड़ जुटाने की योजना

बता दें कि, कंपनी इस IPO के माध्यम से तकरीबन 755 करोड़ रुपए जुटाने की योजना बना रही है, जिसमें से 300 करोड़ रुपए के शेयर ऑफर फॉर सेल (OFS) के जरिए बेचे जाने हैं तथा 455 करोड़ रुपए के शेयर फ्रेश इश्यू किए जाएंगे। ऑफर फॉर सेल (OFS) में कंपनी के प्रमोटर राजेंद्र शाह 66.75 करोड़ रुपये, हरीश रंगवाला 75 करोड़ रुपये, पिलक शाह 16.50 करोड़ रुपये, चारुशिला रंगवाला 75 करोड़ रुपये और निर्मला शाह 66.75 करोड़ रुपये तक के शेयर बेचने वाले हैं।

कंपनी के Red Herring Prospectus के अनुसार आईपीओ के माध्यम से इकट्ठा की गई इस रकम के एक बहुत बड़े हिस्से का इस्तेमाल कर्ज चुकाने के लिए किया जाएगा जो तकरीबन 270 करोड़ रुपये हैं, इसके साथ ही कंपनी नई मशीनरी खरीदने में लगभग 78 करोड़ समेत इंफ्रास्ट्रक्चर से संबंधित मरम्मत कार्य, वर्तमान में उपलब्ध फ़ैसिलिटीज को रिनोवेट करने तथा अन्य कॉर्पोरेट खर्चों में इस्तेमाल करने वाली है।

कंपनी के कारोबार के बारे में

जैसा कि, हमनें पहले भी बताया Harsha Engineers International बेयरिंग केज बनाने वाली देश तथा दुनियाँ की जानी-मानी कंपनियों में शुमार है, कंपनी की शुरुआत इसके प्रोमोटर्स राजेन्द्र शाह और हरीश रंगवाला ने 1986 में करी। कंपनी मुख्यतः ऑटोमोटिव, एविएशन और एयरोस्पेस, रेलवे, कंस्ट्रक्शन माइनिंग, रिन्युएबिल एनर्जी, और कुछ अन्य इंडस्ट्रियल सेक्टर्स में इंजीनियरिंग प्रोडक्ट्स जैसे बेयरिंग केज, स्टील केज, पॉलीअमाइड केज तथा स्टेप कॉमपोनेन्ट का उत्पादन करती है।

वर्तमान में कंपनी की प्रोडक्शन फ़ैसिलिटीज भारत समेत रोमानिया और चीन में मौजूद हैं, जबकि कंपनी के वेयरहाउस भारत, चीन, अमेरिका समेत यूरोप के कई देशों में स्थित हैं। कंपनी के वित्तीय आंकड़ों को देखें तो इसने साल 2020 के बाद से लगातार बेहतर प्रदर्शन किया है। 2020 से हर साल कंपनी का शुद्ध मुनाफ़ा (Profit After Tax) लगभग दोगुना हो रहा है। हर्षा इंजीनियर्स के 3 वर्षों के वित्तीय आँकड़े नीचे हैं

Period EndedTotal AssetsTotal RevenueProfit After TaxNet Worth
31-Mar-20973.24899.521.91378.02
31-Mar-21981.07876.7345.44433.22
31-Mar-221158.25133991.94527.9

ऐसे चैक करें अलॉटमेंट

अगर आपने भी Harsha Engineers International Ltd. का आईपीओ सब्सक्राइब किया है तो नीचे बताये गए तरीकों से अलॉटमेंट के स्टेटस को चैक (How to check Harsha Engineers IPO Allotment) कर सकते हैं। आईपीओ का अलॉटमेंट दो तरीकों से देखा जा सकता है, जिनमें पहला तरीका रजिस्ट्रार की वेबसाइट के माध्यम से और दूसरा तरीका स्टॉक एक्सचेंज BSE की वेबसाइट के माध्यम से चैक करने का है।

रजिस्ट्रार की वेबसाइट से ऐसे करें चैक

अलॉटमेंट देखने के लिए रजिस्ट्रार Link Intime India Pvt. Ltd. की वेबसाइट https://linkintime.co.in/mipo/ipoallotment.html पर क्लिक करें और आईपीओ सलेक्ट करें। इसके बाद आपसे PAN कार्ड नंबर पूछा जाएगा अपना पैन नंबर दर्ज करें, अगर आपको कंपनी के शेयर अलॉट हुए हैं तो आपको Allotted Shares में शेयरों की संख्या दिखाई देगी।

BSE की वेबसाइट से अलॉटमेंट चैक करने का तरीका

अपना अलॉटमेंट स्टेटस बीएसई की वेबसाइट के माध्यम से देखने के लिए बीएसई की वेबसाइट https://www.bseindia.com/investors/appli_check.aspx पर क्लिक करें इसके बाद आपसे इश्यू टाइप पूछा जाएगा जिसमें “Equity” का चयन करें। इसके पश्चात इश्यू नेम में Harsha Engineers International को सलेक्ट करें और अपना एप्लिकेशन नंबर अथवा पैन नंबर दर्ज कर अलॉटमेंट का स्टेटस चैक करें।

कंपनी का ग्रे मार्केट प्रीमियम और लिस्टिंग

गौरतलब है कि, कंपनी शेयर मार्केट में आने वाली 26 सितंबर को लिस्ट होने जा रही है। आईपीओ के सब्स्क्रिप्शन को मिले जबरजस्त रिस्पॉन्स तथा ग्रे मार्केट में शेयर के प्रीमियम को देखते हुए इस बात की बहुत संभावना है कि, शेयर लिस्टिंग के दिन निवेशकों को ताबड़तोड़ मुनाफ़ा दे।

कंपनी के करेंट ग्रे मार्केट प्रीमियम की बात करें तो वर्तमान में यह 234 रुपये के करीब चल रहा है, जो इश्यू प्राइज बैंड 314 – 330 रुपये की ऊपरी सीमा का तकरीबन 71% है। अतः 26 तारीख को कंपनी 71% प्रीमियम अर्थात 564 रुपये पर लिस्ट हो सकती है।

Recent Articles

ADVERTISEMENT

Also Read This

error: Content is protected !!